Follow by Email

Thursday, November 24, 2011

साउथ एक्स. में दस अवैध निर्माण सील


Nov 23, 11:38 pm

नई दिल्ली, जागरण संवाददाता : अवैध निर्माण के खिलाफ चल रही दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) की कार्रवाई बुधवार को भी जारी रही। इस बार कार्रवाई हुई साउथ एक्सटेंशन में। अपरान्ह दो बजे के बाद सेंट्रल जोन के भवन विभाग ने क्षेत्र की 10 इमारतों में बने अवैध निर्माण को सील कर बिजली-पानी का कनेक्शन भी काट दिया। इस दौरान एक ऐसे संपत्ति को सील किया गया, जिसमें अवैध रूप से 20 दुकानें चल रही थीं। हालांकि गत दिनों की तरह बुधंवार को भी पुलिस बल विलंब से मिला, जिसके चलते सीलिंग की कार्रवाई काफी देर से शुरू हो पाई।
इसके साथ ही मंगलवार को साउथ एक्सटेंशन पार्ट-वन में सील किए गए पेइंग गेस्ट हाउस को देर शाम चंद घंटे के लिए खोला गया। वहां रहने वाली लड़कियों ने अंदर से अपना सामान निकालने के लिए कमरों को खोलने का आग्रह किया था। इसके बाद बुधवार को दोबारा पेइंग गेस्ट हाउस को एमसीडी ने सील कर दिया। भवन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक अभी सप्ताह भर साउथ एक्सटेंशन इलाके में इसी तरह की कार्रवाई जारी रहेगी। इसके तहत पार्ट-वन में अवैध रूप से चल रहे आठ-10 पेइंग गेस्ट हाउस को और सील किया जाएगा। इसकी सूचना संपत्ति मालिक को दे दी गई है।
उधर, एमसीडी के निदेशक (सूचना एंव प्रचार) योगेंद्र सिंह मान बताते हैं, बुधंवार को नियमित कार्रवाई के तहत एमसीडी के तीन अलग-अलग जोन में कुल 46 संपत्तियों (मकान) में हुए अवैध निर्माण को ढहाया। दक्षिणी जोन में कुल सात संपत्तियों में हुए अवैध निर्माण पर एमसीडी के कार्रवाई कर ढहाया। यहां के हौज खास इलाके में संपत्ति संख्या 43, 73 व टी 71 में अवैध रूप से निर्मित हिस्से को जब ढहाने के लिए एमसीडी का दस्ता पहुंचा तो वहां स्थानीय लोगों ने विरोध किया। संपत्ति मालिकों का कहना था कि निर्माण को ढहाने की बजाए फिलहाल सील कर दिया जाए। मगर उनकी मांग नहीं मानी गई। इसके अलावा रोहिणी जोन में 9 तो सदर पहाड़गंज जोन में 30 संपत्तियों के अलग-अलग मंजिल पर हुए अवैध निर्माण के खिलाफ एमसीडी ने कार्रवाई की। सदर बाजार के पहाड़ी धीरज, मुलतानी ढांडा इलाके में कई मकानों में पांचवी मंजिल तक लोगों ने अवैध रूप से बना ली थी।

No comments:

Post a Comment